कैसीनो क्या है

कैसीनो, मूल रूप से, संगीत और नृत्य के लिए एक सार्वजनिक हॉल है; 19 वीं सदी के उत्तरार्ध में, जुआ या जुए के कमरों का एक संग्रह।

एक कैसीनो का सबसे बढ़िया उदाहरण, और लंबे समय से दुनिया में सबसे ज्यादा जाना जाने वाला, Monte-Carlo में है, जो 1863 में खोला गया था। Monaco की रियासत के लिए कैसीनो लंबे समय से आय का एक प्रमुख स्रोत रहा है।

21 वीं सदी का कैसीनो एक ऐसा स्थान है जहाँ जुआरी अपने पैसे को एक आम जुआरी के खिलाफ जोखिम में डाल सकते हैं, जिसे बैंकर या घर कहा जाता है। पूरे विश्व में कैसीनो का लगभग एक समान चरित्र है। यूरोप में, लगभग हर देश ने कैसीनो को अनुमति देने के लिए 20 वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में अपने क़ानूनों को बदल दिया।

यूनाइटेड किंगडम (United Kingdom) में लाइसेंस और पर्यवेक्षित जुआ क्लब, मुख्य रूप से लंदन में, 1960 से संचालित हैं। क्लब की सदस्यता आवश्यकता होती है और आसानी से प्राप्त होती है। कैसिनो को फ्रांस में सरकार द्वारा भी विनियमित किया जाता है, जिसने 1933 में उन्हें वैध कर दिया।

फ्रांस Cannes, Nice, Divonne-les-Bains और Deauville में स्थित कैसीनो सहित सबसे प्रसिद्ध यूरोपीय कैसीनो में से कई की डींगे मारता है। अन्य प्रसिद्ध यूरोपीय कैसीनो एस्टोरिल, पुर्तगाल; कोर्फू, ग्रीस; और बाडेन-बैडेन (Baden-Baden) और बैड होम्बर्ग वॉन डेर होहे (Bad Homburg von der Höhe), जर्मनी में पाए जाते हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका में, कानूनी कैसीनो लंबे समय तक केवल लॉस वेगास (Las Vegas) और नेवादा (Nevada) के अन्य स्थानों में संचालित किये जाते थे, जहां 1931 के बाद से व्यवसायिक जुआ घरों के विभिन्न रूपों की अनुमति दी गई है। लास वेगास की अर्थव्यवस्था लगभग पूरी तरह से बड़े, शानदार कैसीनो पर निर्भर है जो 1940 के दशक के उत्तरार्ध से वहां संचालित हैं। नेवादा (Nevada) राज्य में कुल ‘कर राजस्व’ (tax revenue) का लगभग 40 प्रतिशत जुए से आता है।

20 वीं शताब्दी के अंतिम दशकों के दौरान संयुक्त राज्य में कैसीनो जुआ का एक सामान्य विस्तार चल रहा था, 21 वीं सदी की शुरुआत तक कैसीनो के भीतर लगभग 6 अरब डॉलर (लगभग 45,000 करोड़ रूपये) सालाना का सट्टा या दांव लगाया गया था।

कैसीनो जुआ (Casino gambling) अटलांटिक सिटी (Atlantic City), न्यू जर्सी (New Jersey) में 1978 में पेश किया गया था, और 1980 के दशक से कैसीनो उन विभिन्न अमेरिकी भारतीय आरक्षणों पर दिखाई देने लगे जो जुआ विरोधी राज्यों के अधीन नहीं हैं। कई अमेरिकी राज्यों ने रिवरबोट्स (riverboats) तक सीमित कुछ मामलों में कैसीनो को अनुमति देने के लिए अपने कानूनों में संशोधन 1980 और 1990 के दशक के दौरान किया। कैसीनो प्यूर्टो रिको (Puerto Rico) में भी पाए जाते हैं, और दक्षिण अमेरिका में कई देशों में भी कैसीनो हैं। Havana में कैसीनो 1959 में क्यूबा क्रांति (Cuban Revolution) के बाद बंद हो गया था। दुनिया भर में 3,000 से अधिक कानूनी कैसीनो और गेमिंग हाउस होने का अनुमान है।

कैसीनो आम तौर पर एक निर्धारित सीमा के भीतर patrons द्वारा किए गए सभी दांवों को स्वीकार करता है, ताकि एक कैसीनो भुगतान करने के लिए जितना खर्च कर सकते हैं उससे अधिक एक patron न जीत सके। कैसीनो में नियमित रूप से खेले जाने वाले खेलों में से, रूलेट (roulette) दुनिया भर में पाए जाते हैं, roulette फ्रांस में एक प्रमुख जुआ खेल रहा है, जहां बड़े सट्टेबाज़ों को लुभाने के लिए कैसीनो अपने लाभ को 1 प्रतिशत से भी कम कर देते हैं। अमेरिका में, roulette छोटे सट्टेबाजों को अधिक अपील करता है, और कैसीनो एक बड़ा प्रतिशत लेते हैं। Craps अमेरिकी कैसीनो में बड़े सट्टेबाजों को आकर्षित करते हैं, जिनमें से अधिकांश 1.4 प्रतिशत से अधिक और कुछ केवल 1 प्रतिशत या उससे कम लाभ की मांग करते हैं।

स्लॉट मशीनें और (1980 के दशक से) वीडियो पोकर मशीनें अमेरिकी कैसीनो का आर्थिक मुख्य आधार हैं। एक और बहुत ही आम खेल जो ज्यादातर कैसीनो में पेश किया जाता है वह है केनो (keno)।

कैसीनो ने 1990 के दशक के दौरान अपने प्रौद्योगिकी के उपयोग को नाटकीय रूप से बढ़ाया। उनके सामान्य सुरक्षा के लिए उपयोग के अलावा, वीडियो कैमरा और कंप्यूटर अब नियमित रूप से खेलों की निगरानी करते हैं। उदाहरण के लिए पूर्ण स्वचालित खेलों के रूलेट (roulette) और पासे (dice) के संस्करण हैं, जहां किसी डीलर की आवश्यकता नहीं होती है और खिलाड़ी बटन दबाकर बाज़ी लगाते हैं।

तुर्क (Turks) और कैकोस (Caicos) द्वीप समूह के बाहर से संचालित करते हुए 1995 में Internet Casinos, Inc. ने पहला “आभासी” कैसीनो (“virtual” casino) प्रीमियर किया। पारंपरिक कैसीनो सहित प्रतियोगियों ने जल्द ही कंप्यूटर प्रोग्राम द्वारा चलाए जाने वाले अपने ऑनलाइन जुआ खेल (online gambling games) की पेशकश की। 21 वीं शताब्दी की शुरुआत तक लगभग 200 इंटरनेट कैसीनो में लगभग 200 अरब डॉलर सालाना का सट्टा या दांव लगाया जा रहा था। इन कैसीनो की एक बड़ी संख्या एंटीगुआ (Antigua) और जिब्राल्टर (Gibraltar) जैसे off-shore टैक्स हेवन (अत्यंत कम कर वाले देश या द्वीप) में स्थित थी और किसी भी नियामक अधिकारियों द्वारा निगरानी की कमी के लिए कई कैसीनो की आलोचना की गई है।